Meet Our Director Apurv Kumar Persai at PrayasKSG

Our Director – Mr. Apurv Sir

About Mr. Apurv Kumar Persai Sir

Apurv Sir is one of the most notified and renowned educators of the Civil Service examination in the Country. The magnitude of its excellence can be estimated from the fact that several aspirants are paying deep gratitude to Apurv Sir for their Success.

Aspirants like Tina Dabi (Air-1), Rachit Raj ((AIR-3), Shrusti Deshmukh (AIR-5), Rishi Raj (AIR -27), etc. in UPSC, while Rachna Sharma (MPPSC, Rank-2) Gagan Bisen (MPPSC, Rank-7), Tanmay (MPPSC, Rank-15), etc. have taken classroom training from Apurv Sir.

His career as an academician, scholar, and educationist has enlightened the students of institutions like Jamia-milia, Dibrugarh, and several other Universities in the Country.

Recently Apurv Sir, under the patronage of KSG and Khan Sir, has started a new endeavor called Prayas KSG. Prayas KSG is a dedicated team of 15-20 teachers who have scholarly competence in their fields.

Apurv Sir, as a Director of Prayas KSG, always believed in this philosophy of Buddha that

An Idea that is developed and put into action is more important than an idea that exists only as an idea.

Director Apurv sir

क्या है प्रयास KSG

KSG ने विगत एक दशक में UPSC परीक्षा को आधार बनाते हुए प्रतिबद्धता, गुणवत्‍ता और छात्रों के चयन की दृष्टि से अपनी प्राथमिकता को सिद्ध किया है। चूंकि UPSC और MPPSC के परीक्षा पैटर्न में जमीन-आसमान का अन्तर है, इसे ध्यान में रखते हुए संस्थान ने MPPSC के शिक्षण और मार्गदर्शन हेतु विशिष्‍ट कदम नहीं उठाये थे।

किन्तु मध्य प्रदेश के प्रतियोगी छात्रों की ओर से लगातार मांग और उचित मार्गदर्शन के अभाव को देखते हुए KSG संस्थान ने MPPSC के लिए पृथक रूप से एक प्रतिबद्ध संस्थान की स्थापना का निर्णय लिया है, जिसे ‘प्रयास KSG’ के रूप में जाना जायेगा। ‘प्रयास KSG’ का केन्द्रीय संस्थान भोपाल, म.प्र. में स्थापित किया गया है।

‘प्रयास KSG’ को स्थापित करने का ध्येय मध्यप्रदेश के छात्रों को एक ऐसा संस्थान भोपाल में उपलब्ध कराना है, जहाँ एक ही छत के नीचे छात्रों को बेहतरीन शिक्षण, उचित मार्गदर्शन एवं गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। इसके अतिरिक्त अनुभवी शिक्षक तथा मध्यप्रदेश की पूर्ण जानकारी रखने वाले मेंटोर्स उनकी विश्‍लेषणात्मक क्षमता विकसित करेंगे।

UPSC परीक्षा में श्रेष्‍ठ परिणाम देकर KSG संस्थान ने अपनी पहचान सफलता के चरम पर पहुँचाने वाले संस्थान के रूप में बनाई है, जिसके चलते छात्रों की अपेक्षा संस्थान से MPPSC परीक्षाओं में भी वहीं बेहतरीन परिणाम प्रदत्‍त कराने की है।

KSG संस्थान ने अपनी सफलता की परिभाषा को पूर्ण रूप से सिद्ध किया है जिसमें अनुभव, मार्गदर्शन, नवीन शिक्षण पैटर्न, विषयानुसार स्टडी मटेरियल, पर्सनल डाउट क्लीयरेंस के मिश्रण ने इसे ऊँचाईयों पर पहुँचाने में मदद की है। संस्थान के संस्थापकों एवं पूरे KSG परिवार की ‘प्रयास KSG’ को लेकर भी यहीं आशाएं एवं उम्मीदें हैं।

संस्थान ने ‘प्रयास KSG’ को लेकर अपने लक्ष्य एवं अहम बिन्दुओं को गढ़ा है, जिससे छात्रों को वे हर सुविधा एवं उचित मार्गदर्शन प्रदान कर सकें जिससे की छात्र प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने में किसी भी प्रकार से पीछे न रह सके।

हमारी रणनीति

‘प्रयास KSG’ का प्रमुख उद्देश्‍य मध्यप्रदेश के प्रतियोगी छात्रों को गुणवत्‍तापूर्ण एवं प्रमाणिक मार्गदर्शन प्रदान करना है।

विगत कई वर्षो के चयनित विद्यार्थियों की सूची का विश्‍लेषण करके यह पाया गया है कि जो प्रतियोगी UPSC परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं वह MPPSC की परीक्षा में भी उच्च रैंक प्राप्त कर रहे हैं। KSG से UPSC की तैयारी किये हुए कई छात्रों जैसे रचना शर्मा (रैंक-2), गगन बिसेन (रैंक-8), तन्मय (रैंक-15) आदि ने सफलता प्राप्त की है। इसका मूल कारण शिक्षण की गुणवत्‍ता, अध्ययन सामग्री, विशिष्‍ट रणनीति एवं विश्‍लेषणात्मक क्षमता है।

ध्यातव्य है जो छात्र विषेश रूप से MPPSC की तैयारी में संलग्न है, जो तुलनात्मक रूप से UPSC के छात्रों की तुलना में ज्यादा परिश्रमी एवं लक्ष्यों के प्रति समर्पित है। ‘प्रयास KSG’ आपके परिश्रम और प्रतिबद्धता को न केवल आधार प्रदान करेगा अपितु MPPSC परीक्षा में सफलता के उच्च मानक भी स्थापित करेगा।

यहां उल्लेख करते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि KSG संस्थान ने विगत एक दशक में 1500 से अधिक छात्रों के चयन का करिश्‍मा कर दिखाया है, जिसमें लगातार टॉप टेन (TOP-10) में हमारे छात्र रहे हैं।

प्रतियोगिता की दुनिया में यह परिघटना इसलिए संभव हो सकी क्योंकि- KSG संस्थान ने उच्च अध्यापन, गुणवत्तापूर्ण अध्ययन सामग्री, छात्रों के साथ संवाद एवं अनुशासन को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है।

टीम वर्क, अनुभव, अनुशासन, प्रामाणिकता और गुणवत्ता की इसी परिपाटी को ‘प्रयास KSG’ भी वास्तविक पटल पर मूर्त रूप देगा।

शिक्षक समूह

प्रयास KSG का शैक्षणिक समूह मध्यप्रदेश और दिल्ली के उन प्राध्यापकों से गठित किया गया है, जिन्हें अपने विषय में महारथ हासिल है और इतना ही नहीं इन्होंने स्वंय भी अपने-अपने क्षेत्रों में उच्च सफलता के मानदण्ड स्थापित किये हैं। इनके शैक्षणिक अनुभवों, विशेषज्ञता, सफलता और परिश्रम को ध्यान में रखते हुए- KSG ने ‘प्रयास KSG’ टीम का गठन किया है।

इस टीम में 16-18 प्रामाणिक शिक्षकों की उपस्थिति होगी जो कि अपूर्व सर के निर्देशन में कार्य करेगी।

अपूर्व सर व उनके सहयोगी शिक्षकों द्वारा प्रतियोगी परीक्षा में अध्यापन का विगत डेढ़ दशक का अनुभव है, जिनके निर्देशन में UPSC की परीक्षा में रचित राज (A.I.R.-3), टीना डाबी (A.I.R.-1), सृष्टि देशमुख (A.I.R.-5), ऋषि राज (A.I.R.-27), तथा MPPSC की परीक्षा में रचना शर्मा (Rank-2), गगन बिसेन (Rank-7), तन्मय (Rank-15) जैसे असंख्य प्रतियोगी छात्रों ने सफलता का परचम लहराया है।

प्रयास KSG में शिक्षकों के अलावा चयनित छात्रों, सेवानिवृत्‍त लोक सेवक व अनुभवी शिक्षाविद् भी समय-समय पर मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। शिक्षक समूह के मार्गदर्शन व अभिप्रेरणा का कार्य डॉ. खान करेंगे।

प्रयास KSG का प्रयास

अध्ययन सामग्री – प्रयास KSG में विद्यार्थियों को कक्षा नोट्स के साथ गुणवत्‍तापूर्ण प्रिंटेड सामग्री भी उपलब्ध करायी जायेगी, जिनमें समय-समय पर संशोधन और सम्वर्द्धन किया जायेगा।

यह संशोधन समसामयिक विषयों और म.प्र. के सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक एवं वैद्यानिक घटनाक्रमों को संज्ञान में रख कर किया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि अध्ययन सामग्री को प्रासंगिक बनाने हेतु प्रयास KSG का एक विशिष्‍ट अनुसंधान समूह कार्य करेगा।

उत्तर लेखन कार्यशाला

उत्‍तर लेखन हेतु KSG की विशिष्‍ट (POD (Proof of Delivery) विधि को अपनाया जायेगा, जिसके अन्तर्गत अनुभवी मूल्यांकनकर्ता उत्‍तर लेखन की कमजोरियों, विश्‍लेषणात्‍मक पहलुओं और उत्‍तर प्रस्तुतीकरण जैसे विषयों पर विशेष ध्यान देंगे।

शिक्षकों के साथ भी छात्रों का लगातार संवाद कराया जायेगा ताकि प्रतियोगी अवधारणात्मक रूप से सक्षम हो सके।

निष्‍पादन मूल्यांकन

प्रयास KSG प्रत्येक विद्यार्थी का परफॉर्मेंस चार्ट बनायेगा जो प्रत्येक माह में उपलब्ध कराया जायेगा। इस चार्ट के द्वारा प्रतियोगी छात्रों को परीक्षा के प्रत्येक चरण (विशेष रूप से प्री और मेन्स) के परफॉर्मेंस को चिन्हित किया जायेगा।

मुख्य परीक्षा मूल्यांकन

प्रयास KSG में प्रत्येक पन्द्रह दिनों के अन्तराल पर विषयागत परीक्षा आयोजित की जायेगी। इस टेस्ट में उन विषयों से जुड़े प्रश्‍न पूछे जायेंगे जो समसामयिक है और कक्षा में पढ़ाये जा चुके हैं।

फाउण्डेशन कोर्स

प्रयास KSG का फाउण्डेशन कोर्स (प्री एवं मुख्य परीक्षा) 10-12 महीने का होगा, जिसके बाद विषयगत एवं वस्तुनिष्‍ठ परीक्षा की श्रृंखला प्रारंभ होगी।

साप्ताहिक टेस्ट

प्रयास KSG में प्रारंभिक परीक्षा की कठिन प्रतिस्पर्धा को देखते हुए साप्ताहिक रूप से टेस्ट का आयोजन होगा। यह टेस्ट कक्षाओं के अतिरिक्त होगा एवं उन विषयों से जुड़ा हुआ होगा जो टॉपिक कक्षा में पढ़ाया जा चुका है।

Our Video Lectures

 

Subscribe to Prayas KSG YouTube Channel

Get daily updates on MPPSC Prelims & Mains. Get tips on test preparation, mock interviews, current affairs, notifications and more

Our Student Reviews 

Ready to Make a Change?

Learn from India’s best teachers and clear your doubts in real-time. Schedule timely reminders and study in the comfort of your home. Learn and compete with other students in real-time.